Najrane

  • INSANITY OF PRAYERS - INSANITY OF PRAYERS Often, we start our day with prayers- willingly or not willingly, Early in the morning all of the religious institutions start chant...
    4 years ago

Monday, August 27, 2012

"मेरे मोती--------देव लोहान"

"मेरे मोती--------देव लोहान" 



बड्डे बुजुर्ग सब कहते है अपने धरती ही सब की थाती है
 आँखों के मोति बहते है जब याद गावों की आती है 

जहाँ अब भी सजती है मस्त मोलो की टोलिया
 पूरी उमंग ओर मस्ती के साथ अब भी खेली जाती है होलिया
 यही सब बातें दिल मे एक कुंक उठाती है
 आँखों की मोती बहती है जब याद गावों की आती है

प्रेम की वो सॉफ ल्हर हर एक गली मे बहती है
 राम सीता की जोड़ियाँ जहाँ हर घर मे रहती है
 पवित्रता की यह बयार ही तो उस जगह को ख़ास बनाती है
 आँखों की मोती बहती है जब याद गावों की आती है  

 वो नदी के पुल के उपर से कूद जाना
 हर रोज़ बाग मे से अम्रुदो को  चुराना
 वो मा के कोमल हाथो साइ मार खाना
 बचने के लिया हर रोज़ एक नया बहाना

 सेरारत के यह फुलज़ाडीएन "अमीरीए" को छेड़ जाती है
 आँखों की मोती बहती है जब याद गावों की आती है 


भीड बहुत है आस पास यहाँ पर................. 
पर उसकी याद तो लाखों मे भी तन्हा कर जाती है
 आँखों की मोती बहती है जब याद गावों की आती है



Dev Lohan"Amireaa"

Saturday, August 11, 2012

"ताउ तेरा सुशासन"



 "ताउ तेरा सुशासन"

देख हालत हरयाणा की, दिल यू रोंदा जावे है
ताउ जी तेरा सुशासन, सबने याद बड़ा ही आवे है

ईब भूखे-प्यासे बैठे हां, ना बिजली तक महारे पास है,
गेंहू रुलगे-धान रुलगे अर रूली पड़ी महारी या कपास है,
नही चिंता इन्न भूखान महारी, कर रहे ये तो नाश है,
लौट आजा लोकदल का राज, बस इस्ते हमने आस है,


भूखे मरे मजदूर-किसान, अर हरयाणा .-1 कहलावे है
देख हालत हरयाणा की, दिल यू रोंदा जावे है
ताउ जी तेरा सुशासन, सबने याद बड़ा ही आवे है

चोर, उछ्क्के और बदमाश, सारे इन्हाने है मंत्री बनाए
तोड़ घर ग़रीबा के, इन्हाने अपने से घर बनाए
गोहाना, रोहतक और कांदा जैसे इन्हाने कांड कराए
रोवां सा,
के दीखा सपने झूठे, रे क्यूकर इन्हाने हम थे बहकाए

लूटदा देख खजाना आपना, या नींद महारी उचतावे है,
देख  हालत हरयाणा कीदिल यू रोंदा जावे है
ताउ जी तेरा सुशासनसबने याद बड़ा ही आवे है


याद राखीओ दर्द यो सारा भूलन की ये बात न्ही
सारे है नीरे निक्म्मे, इन आदमख़ोरा की कोई जात न्ही
इन्हाने बस पीस्से प्यारे, बाकी कोई भी इनका नात न्ही
सुधरेंगे न्ही यह भूखे भेड़िए, मारोगे जब तक ताम लात न्ही

रे पह्न के चश्मा मोज़ मारायगे, बात याहे इब हमने हर जगह पावे है
देख  हालत हरयाणा कीदिल यू रोंदा जावे है
ताउ जी तेरा सुशासनसबने याद बड़ा ही आवे है
Dev Lohan"Amireaa"